रविवार, 11 फ़रवरी 2018

सपना डांसर बनने का ।

जयदीप कुमार
बचपन से एक सपना था कि डांसर बनू इसी वजह से मैं वाराणसी में  डांस क्लास लेने लगा  लेकिन कुछ समय बाद मेरे सेहत में काफी गिरावट आने लगी।उसी समय मुझे पीलिया हो गया जिसके वजह से मैं जिला अस्पताल में मुझे एडमिट होना पड़ा जिसके वजह से मुझे काफी समय तक डांस से दूर रहना पड़ा। ठीक हो कर पुनः वाराणसी गया लेकिन डांस क्लास नही ले सका। इसी बीच मेरा एडमिशन दिल्ली विश्वविद्यालय में हो गया यहाँ पर सोचा कि कॉलेज की डांस सोसाइटी ले कर डांस सीखूंगा लेकिन जब तक मुझे डांस सोसाइटी के बारे में पता चला उससे पहले डांस का ऑडिसन हो चुका था। इस वजह से मैं डांस में तो नही हो सका लेकिन साउथ कैम्पस में ड्रामा करने लगा। दिल्ली विश्वविद्यालय के अलग - अलग कॉलेज में ड्रामा करने बाद फिर डांस वाली लाइन पर आ गया।साल बीत गया एक बार फिर से कॉलेज की डांस सोसाइटी में जाने का मौका आ गया ।अब क्या था डांस तो छूट चुकी थीं तो डांस का ऑडिशन कैसे देता तो इस लिए डांस का क्लास फिर लेने लगा ताकि डांस में मेरा सलेक्शन हो जाये। ऑडिसन हुआ मैं भी ऑडिसन देने गया जब ऑडिसन का रिजेल्ट आया तो उसमें सबसे नीचे मेरा भी नाम था। अब तो कॉलेज की डांस सोसाइटी में हो गया था तो जो मैं डांस क्लास ले रहा था उसको बन्द कर दिया।अब कॉलेज की डांस सोसाइटी में डांस कर और सीख रहा हूँ।

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें